Home Trending Videos Photos

Documentary फिल्म ‘काली’ का पोस्टर जारी, इसे देखते ही लोग हुए आग बबूला, जानिये पूरा मामला

भारत में हाल ही में एक डॉक्यूमेंट्री फिल्म को लेकर भारी विवाद खड़ा हुआ है। Leena Manimekali ने अपनी डॉक्यूमेंट्री फिल्म ‘काली’ का एक पोस्टर जारी किया था जिसे देखने के बाद लोग आग बबूला हो उठे।

Documentary फिल्म 'काली' का पोस्टर जारी, इसे देखते ही लोग हुए आग बबूला, जानिये पूरा मामला
Source: Google

लीना ने जो पोस्टर जारी किया था उसमें मां काली को सिगरेट पीते हुए दिखाया गया है, उनके एक हाथ में त्रिशूल तो दूसरे हाथ में LGBTQ का झंडा है। लोगों का कहना है कि इस तरह के पोस्टर के जरिए उनकी धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाया गया है, हालांकि अब Twitter ने बड़ी कार्रवाई करते हुए Leena Manimekali के उस पोस्ट पर रोक लगा दी है, जिसमें उन्होंने काली का पोस्टर शेयर किया था।

सभी लोग चाहते है इस पर कार्यवाही हो

Documentary फिल्म 'काली' का पोस्टर जारी, इसे देखते ही लोग हुए आग बबूला, जानिये पूरा मामला
Source: Google

फिल्म का पोस्टर सामने आने के बाद हिंदू संगठन लगातार इस फिल्म का विरोध कर रहा हैं। लीना पर धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने का आरोप लगाते हुए कार्रवाई की मांग की जा रही है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, फिल्म ‘काली’ के पोस्टर को लेकर जारी विवाद के बीच कई राज्यों में FIR दर्ज हो गई है। दिल्ली, यूपी और मुंबई में इस फिल्म के पोस्टर को लेकर मामला दर्ज करवाया गया है।

Leena एक्ट्रेस के साथ फिल्ममेकर है

Documentary फिल्म 'काली' का पोस्टर जारी, इसे देखते ही लोग हुए आग बबूला, जानिये पूरा मामला
Source: Google

Leena Manimekali की बात करें तो फिल्ममेकर होने के साथ ये एक कवयित्री और एक्ट्रेस के तौर पर भी जानी जाती हैं। लीना ने अपने फिल्म मेकिंग के इस सफल करियर में कई डॉक्यूमेंट्री, फिक्शन और एक्सपेरिमेंटल पोयम फिल्में बनाई हैं, उन्होंने 5 कविता संकलन भी प्रकाशित किया हैं।

पहले भी कई फिल्मो में हुआ है विवाद

फिल्मकार लीना का नाम पहले भी कई विवादों में रहा है, अगर उनके अचीवमेंट्स की बात की जाए तो, लीना ने इस छोटे से करियर में ही बड़ी सफलता हासिल की है। उन्हें इंटरनेशनल अवॉर्ड्स से लेकर कई नेशनल फिल्म फेस्टिवल अवार्ड्स से भी नवाजा गया है।

Read Also -   CM शिवराज ने की घोषणा, नशामुक्ति अभियान के तहत नशामुक्त गांव को दिए जायेगे 2 लाख रूपए

साल 2002 में आई उनकी मथम्मा शॉर्ट डॉक्यूमेंट्री से उन्होंने अपना फिल्मी सफर का आगाज किया था, जिसके बाद उन्होंने इंडस्ट्री को कई कंट्रोवर्शियल फिल्में दीं, जिसकी वजह से उन्हें जाना जाता है।

2011 में लीना की पहली फीचर फिल्म सेंगडल रिलीज की गयी थी, जो काफी चर्चाओं में रही थी। इस फिल्म की कहानी धनुष्कोड़ी के मछुआरों पर बनी थी, जिनका जीवन श्रीलंका में एथनिक वॉर की वजह से बहुत प्रभावित हो रहा था। लीना की ये फिल्म ने भी बहुत बवाल मचा के रखा था, जिसके वजह से भी उन्हें क़ानूनी झंझट में फंसना पड़ा था।

Share your love