Home Trending Videos Photos

एक दूसरे के विरोधी प्रमुख राजनीतिक दल भाजपा और कांग्रेस, मतदाता सूची के मुद्दे पर एक होते आये नजर

Indore Nagar Nigam Chunav 2022 Voting नगर निगम निर्वाचन की मतदाता सूची में सरकार और भाजपा ने पहले उसकी शिकायतों को राजनीतिक स्वार्थ के चलते खारिज किया। नतीजा सामने है कि कांग्रेस ने मतदाता सूची में धांधली का आरोप लगाते हुए जिम्मेदार अधिकारियों पर आपराधिक प्रकरण दर्ज करने की मांग कर दी है।

एक दूसरे के विरोधी प्रमुख राजनीतिक दल भाजपा और कांग्रेस, मतदाता सूची के मुद्दे पर एक होते आये नजर
Source: Google

कांग्रेस के प्रवक्ता और एडवोकेट रवि गुरनानी ने कहा कि मध्य प्रदेश निर्वाचन आयोग ने भी मतदान दिवस से तीन दिन पूर्व मतदाता सूची दुरुस्त करने के आदेश दिए थे, जिसका भी पालन रजिस्ट्रीकरण अधिकारियों ने नहीं किया, ऐसे दोषी अधिकारियों पर तुरंत आपराधिक प्रकरण दर्ज होना चाहिए।

कांग्रेस के पूर्व पार्षद दिलीप कौशल ने मामले पर हाई कोर्ट में याचिका लगाई थी और दो वर्ष से लड़ाई कर रहे हैं। कांग्रेस इससे पहले विभिन्न स्तर पर आपत्तियां देकर मतदाता सूची दुरूस्त करने की मांग रख चुकी है।

जिला निर्वाचन अधिकारी द्वारा दो लाख 59 हजार फर्जी नाम मतदाता सूची से हटाने का पत्र माननीय उच्च न्यायालय में दिया गया था, जिसके बाद भी डबल व फर्जी नाम अंतिम प्रकाशित मतदाता सूची में पाए गए।

एक दूसरे के विरोधी प्रमुख राजनीतिक दल भाजपा और कांग्रेस, मतदाता सूची के मुद्दे पर एक होते आये नजर
Source: Google

कौशल ने भारत निर्वाचन आयोग सहित मध्यप्रदेश निर्वाचन आयोग को प्रमाण देकर शिकायत दर्ज कराई थी। मध्यप्रदेश निर्वाचन आयोग द्वारा दिनांक 18 जून 2022 को जारी पत्र अनुसार इंदौर नगर निगम की मतदाता सूची को मतदान दिवस से तीन दिवस पूर्व हटाकर प्रतिवेदन देने के आदेश जिला कलेक्टर को जारी किए थे।

हालांकि अधिकारियों ने मतदाता सूची को दुरुस्त न करके प्रतिवेदन राज्य निर्वाचन आयोग को नहीं दिया है। मतदान दिवस पर मतदाता सूची में धांधली के चलते हजारों नागरिक मतदान करने से वंचित रह गए है तथा निर्धारित प्रक्रिया का पालन नहीं करके बिना किसी कारण मतदाता सूची में मतदाताओं का नाम काटे जाने के लिए जिम्मेदार अफसरों पर तुरंत कार्रवाई करने तथा आपराधिक प्रकरण दर्ज कराये की मांग की है।

Read Also -   Ranji Trophy के फाइनल में याद आये के.एल.राहुल, मध्यप्रदेश के यश दुबे ने लगाया शतक

भाजपा के पूर्व पार्षद भरत पारिख ने कहा है कि मतदाता सूची की गड़बड़ी से करीब एक लाख मतदाता मतदान से वंचित रहे हैं। इस मामले पर संज्ञान लेने और कार्रवाई की जरुरत है।

Share your love