Hartalika Teej 2022: इनके बिना अधूरी है हरतालिका पूजा, देखें पूजन सामग्री

Hartalika Teej 2022: पौराणिक मान्यता के अनुसार हिंदू धर्म में महिलाएं हमेशा से अपनी पति की लंबी उम्र के लिए हरितालिका तीज (Hartalika Teej) व्रत करती आ रही हैं जिसे तीजा के नाम से भी जाना जाता है।

इसमें महिलाएं अपने पती की उम्र को बढ़ाने के लिए व्रत यह तीज का व्रत रखती हैं वहीं पर कुमारी लड़कियां भी मनचाहा एवं सहयोग वर प्राप्त करने के लिए यह व्रत रखती हैं इस व्रत को सफलतापूर्वक संपन्न करने के लिए शिव एवं पार्वती की पूरे विधि विधान से पूजा की जाती है और इस पूजा के दौरान शिव एवं पार्वती खुश होकर व्रत करने वाले को मनचाहा वरदान देते हैं।

Hartalika teej 2022 puja
hartalika teej 2022 puja

धार्मिक मान्यता के अनुसार यह कहा जाता है कि इस दिन मां पार्वती ने भगवान शिव शंकर की प्राप्ति के लिए उपवास रखा था और यह दिन उन दोनों के मिलन का प्रतीक है हरितालिका का त्योहार इस जगह उत्तर प्रदेश, बिहार, झारखंड, छत्तीसगढ़ और मध्य प्रदेश पर मुख्य रूप से मनाया जाता रहा है।

Hartalika Teej 2022 Kab?

Hartalika teej vrat katha
hartalika teej vrat katha

वही पर अगर बात करें कि हरतालिका तीज को (Hartalika Teej 2022 Kab?) कब मनाया जाता है तो पंचांग के अनुसार हरतालिका तीज व्रत हर साल भाद्रपद मास में शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि को मनाया जाता आ रहा है। हरतालिका तीज व्रत इस साल 30 अगस्त को मनाया जाएगा।

वही इस दिन महिलाएं भगवान शिव एवं पार्वती की विधि पूर्वक पूजा अर्चना करने के लिए सोलह सिंगार करती और साथ में भगवान शिव एवं पार्वती को सोलह सिंगार अर्पित भी करती हैं जिससे कि भगवान शिव एवं पार्वती खुश होकर मनचाहा वरदान देते हैं।

ये भी पढ़े -   इस शनि जयंती में दो शुभ योग बनेंगे, जानिए पूजा की विधि और क्या होंगे लाभ

पौराणिक मानता यह भी है कि भगवान शिव एवं पार्वती प्रसन्न होने पर मनचाहा वर देते हैं। आइए जानते हैं कि इस व्रत को संपन्न करने के लिए कौन-कौन सी सामग्री की आवश्यकता होने वाली है।

Hartalika Teej 2022 Pujan Samagri List

  • केले का फल, पानी के साथ एक कलश, आम और पान के पत्ते, एक चौकी
  • केले का पत्ता, बेल के पत्ते, धतूरे का फल और फूल, सफेद मुकुट एवं फूल
  • साबुत नारियल -4, शमी के पत्ते
  • पान 2 या 5, कपास की बत्ती, कपूर
  • घी, दीपक, अगरबत्ती और धूप)
  • भगवान शिव और देवी पार्वती की मूर्तियां
  • सुपारी के 2 पीस, दक्षिणा
  • चौकी को ढकने के लिए एक साफ कपड़ा, पीला/नारंगी/लाल
  • भगवान शिव और देवी पार्वती की मूर्तियां
  • कंघा, कपड़े और अन्य सामान, आभूषण
  • काजल, कुमकुम, मेहंदी, बिंदी, सिंदूर, चूड़ियाँ
  • पैर की अंगुली की अंगूठी (बिछिया)
  • चंदन, जनेऊ, फल, नए कपड़े का एक टुकड़ा
  • सभी वस्तुओं को एक साथ रखने के लिए एक ट्रे

इस आर्टिकल में आपको यह बताया गया है कि आप किन-किन सामग्रियों की मदद से हरतालिका पूजा संपन्न कर सकते हैं अगर आप यह सब सामग्रियों के साथ यह पूजा करेंगे तो आपकी यह पूजा अच्छे से संपन्न हो जाएगी।

Advertisement