Home Trending Videos Photos

18 मुसलमान धर्म परिवर्तन कर बने हिन्दू, जनेऊ धारण कर राम नाम के जयकारे लगाए

भारत, पाकिस्तान, बांग्लादेश, अफगानिस्तान, श्रीलंका और भारतीय उप-महाद्वीप के बाकी देशों के लगभग सभी मुस्लिम समुदाय के लोग सनातन या हिंदू धर्म का त्याग कर मुसलमान बने थे। ये अपने धर्म से मुस्लिम धर्म में चले गए थे। पर अब धीरे धीरे सभी लोग अपने पुराने धर्म को धारण कर रहे है। मध्यप्रदेश में 15 दिन के अंदर मुस्लिम से हिंदू बनने का अब तक का दूसरा बड़ा मामला सामने आया है।

18 मुसलमान धर्म परिवर्तन कर बने हिन्दू, जनेऊ धारण कर राम नाम के जयकारे लगाए
Source: Google

रतलाम के आम्बा में 18 लोगों ने मुस्लिम धर्म को त्याग कर हिंदू धर्म अपना लिया। परिवार के मुखिया मोहम्मद शाह अब राम सिंह बन गए हैं। भीमनाथ मंदिर में महा शिवपुराण की पूर्णाहुति पर गुरुवार को स्वामी आनंदगिरी महाराज के सान्निध्य में सभी ने गोबर और गोमूत्र से नहाकर जनेऊ धारण किया।

इसके पहले सभी ने शपथ-पत्र तैयार किया। इसमें उन्होंने बिना किसी दबाव के धर्म बदलने की बात लिखी। इससे पहले इस परिवार के मुखिया ने स्वामी आनंदगिरी के पास जाकर धर्म परिवर्तन करने की इच्छा स्वयं जाहिर की थी।

18 मुसलमान धर्म परिवर्तन कर बने हिन्दू, जनेऊ धारण कर राम नाम के जयकारे लगाए
Source: Google

13 दिन पहले मंदसौर में शेख जफर शेख पिता गुलाम मोइनुद्दीन शेख ने हिंदू धर्म अपना लिया था। अब वे चेतन सिंह राजपूत के नाम से जाने जाते हैं। उनकी पत्नी पहले ही हिंदू धर्म से हैं। शेख जफर ने भगवान पशुपतिनाथ मंदिर प्रांगण में धर्म परिवर्तन किया था।

जड़ी-बूटियां और ताबीज बेचने वाले 55 साल के मोहम्मद शाह ने परिवार और रिश्तेदारों के साथ धर्म परिवर्तन किया। इससे पहले वह स्वामी आनंदगिरी महाराज से मिले और धर्म परिवर्तन करने की बात कही।

उन्होंने इसकी मंजूरी दी तो शाह ने न्यायालय में शपथ-पत्र बनवा लिए। स्वामी जी ने भीमनाथ मंदिर के पास बने कुंड में पूरे परिवार को गोबर, गोमूत्र से स्नान कराया। जनेऊ धारण कर भगवा वस्त्र पहनाकर जयश्री राम, जय महाकाल और सनातन धर्म के जयघोष के नारे भी लगवाए।

Read Also -   पिता ने बेटे को 1 साल तक पढ़ाया Math, फिर भी बेटा हो गया फेल
18 मुसलमान धर्म परिवर्तन कर बने हिन्दू, जनेऊ धारण कर राम नाम के जयकारे लगाए
Source: Google

और कहा कि दो-तीन पीढ़ी पहले उनके परिजन बोदी समाज के होकर पुंगी बजाने का काम करते थे। इसके बाद रोजगार की तलाश में जुड़ी-बूटियां बेचने और ताबीज बनाने को लेकर इधर-उधर घूमने लगे और मुस्लिम धर्म अपना लिया था। पिछले कुछ समय से गांव में रहने के बाद से ही हिंदू धर्म में रुचि बढ़ने लगी थी। गांव में महा शिवपुराण कथा के दौरान स्वामी जी से धर्म परिवर्तन की बात कही। अब परिवार व रिश्तेदारों ने मिलकर धर्म परिवर्तन कर लिया है।

मोहम्मद शाह राम सिंह और उनका बेटा मौसम शाह अरुण सिंह बन गया है। इसी तरह शाहरुख शाह अब संजय सिंह बन गए। नजर अली शाह बना राजेश सिंह, नवाब शाह बना मुकेश सिंह, पत्नी शायरबी बनी शायरा बाई, बहू शबनम पति शाहरुख शाह बनी सरस्वती बाई, पोता हीरो शाह पिता मौसम शाह बना सावन सिंह।

वहीं, धर्मवीर शाह पिता हुसैन शाह बने धर्मवीर सिंह, उसकी पत्नी आशाबी से आशा बाई बनी। अरुण शाह पिता अर्जुन शाह बने करण सिंह, उनकी पत्नी मीनू बी से मीना बाई बनी।

राजू शाह पिता गुलाब शाह बने राजू सिंह, उनकी पत्नी रंजिता शाह से रंजिता बाई बनी। रमजानी पिता लल्लू शाह बने मुकेश सिंह। रुखसाना पति हबीब खान बनी रुक्मणी बाई, अर्जुन शाह बनें अर्जुन सिंह, उनकी पत्नी मुमताज से माया बनी।

Share your love